आवाज इंडिया लाइव से जुड़ने के लिए संपर्क करें आप हमें फेसबुक टि्वटर व्हाट्सएप पर भी मैसेज कर सकते हैं हमारा व्हाट्सएप नंबर है +91 82997 52099

बाँदा: तेल मालिश के शौकीन एआरटीओ के ऊपर ड्राइवर ने लगाए गंभीर आरोप।

Spread the love
unnamed

योगेन्द्र प्रताप सिंह ब्यूरो चीफ

एआरटीओ शंकर सिंह लड़को से मालिश करवाने के शौकीन

एंकर-बाँदा एआरटीओ शंकर सिंह पर उनके ड्राइवर रहे जितेन्द्र गुप्ता ने संगीन आरोप लगाए है।
ड्राइविंग करने वाले युवा से काम करने के लिए एक लड़के की मांग की थी। नाबालिक लड़के से मालिश करवाने का आरोप ड्राइवर ने लगाया हैं।
एसपी अभिनंदन को शिकायत पत्र देकर जितेंद्र गुप्ता ने कार्यवाही की मांग की हैं।
रंगीनमिजाज एआरटीओ शंकर सिंह खुद को संघ का नेता,पूर्व पत्रकार व तमाम नेताओं का करीबी बतलाते है।
बाँदा में तैनात एआरटीओ शंकर सिंह हाल ही में कौशांबी से ट्रांसफर होकर आए हैं। एआरटीओ शंकर सिंह जितने रंगीनमिजाज हैं उसकी बानगी के लिए यह पूरा घटनाक्रम पढ़ना आवश्यक हैं। बतलाते चले कि आज बाँदा एसपी अभिनंदन को क्षेत्र कमासिन के ग्राम मुसीवां निवासी जितेंद्र गुप्ता पुत्र केदारनाथ ने एक पत्र देकर कार्यवाही की मांग की हैं। पत्र के मुताबिक एआरटीओ शंकर सिंह के ड्राइवर रहे जितेंद्र गुप्ता ने एसपी को बताया की एआरटीओ शंकर सिंह ने मुझे ड्राइविंग के लिए रखा था। करीब तीन माह मैंने काम किया तब एआरटीओ शंकर सिंह ने मुझसे घर के काम करने को एक ग्रामीण लड़के की मांग की थी। मैंने उन्हें नाबालिक लड़का उपलब्ध करा दिया था। उधर एआरटीओ शंकर सिंह ने जहां मेरा वेतन नहीं दिया। वहीं उस नाबालिक लड़के को भी मारपीट करते थे और उससे मालिश करवाते थे। साथ ही घर का काम करवाते थे। लड़के ने जब वेतन की मांग किया तो उससे मारपीट किया गया हैं। वहीं वेतन तक नहीं दिया गया। बतलाते चले कि एआरटीओ शंकर सिंह जहां स्वयं को संघ का सदस्य समर्थक बतलाते है। वहीं उन्होंने एक बार पत्रकार वार्ता के समय कहा कि वे पूर्व में पत्रकार भी रहा हूँ। नौकरी लगी तो पत्रकारिता छोड़ दी। कौशाम्बी से बामदेव की नगरी आये मालिश वाले एआरटीओ शंकर सिंह की यह हरकतें ड्राइवर जितेन्द्र सिंह के लिए हैरानी वाली बातें है। पद की गरिमा के विपरीत कार्यशैली से जहां पुलिस महकमे के अधिकारी सकते में है। वहीं मीडिया में मालिश वाले एआरटीओ नाबालिक के शोषण कर्ता की शक्ल में चर्चित होने की तरफ हैं।

बाइट-आरटीओ एसडी सिंह
बाइट -ड्राइवर जितेन्द्र गुप्ता

No Slide Found In Slider.