April 22, 2021

बाँदा: बीजेपी विधायक और स्थानीय थाना पुलिस से प्रताड़ित किसान परिवार ने IG से लगाई न्याय की गुहार।

Spread the love
unnamed

बाँदा

योगेंद्र प्रताप सिंह ब्यूरो चीफ

ANCHOR / बांदा में नरैनी बिधायक और स्थानीय थाना पुलिस की मिलीभगत से परेशान प्रताड़ित होकर के एक किसान पीड़ित परिवार ने आज आई जी चित्रकूट धाम पर क्षेत्र बांदा के. सत्यनारायण के कार्यालय पहुंचकर न्याय की गुहार लगाई है पीड़ित परिवार ने बताया है कि बीजेपी पार्टी के नरैनी विधायक राजकरण कबीर हमारी जमीन और मकान में कब्जा करना चाह रहा है जिसको लेकर के लगभग 1 महीने से लगातार विधायक के कहने पर स्थानीय थाना पुलिस प्रशासन के द्वारा हमें प्रताड़ित करवाया जा है और फर्जी मुकदमे में फंसाने की कोशिश कर रहा है।पुलिस सुबह शाम घर आकर विधायक के इशारे पर गाली गलौज करने के साथ घर जमीन छोड़ के जाने का दबाब बना रही है।

V0/ आपको बता दें पूरा मामला बाँदा जिले के नैरेनी तहसील के कालिंजर थाना क्षेत्र के स्योता गांव से सामने आया है जहां पर रह रहे एक पीड़ित किसान परिवार ने बीजेपी पार्टी के नरैनी से मौजूदा विधायक राजकरण कबीर पर गंभीर आरोप लगाया है। पीड़ित परिवार ने बताया कि विधायक उनके घर मकान मैं अवैध कब्जा करना चाह रहा है। जिसको लेकर के कई बार विधायक ने स्थानीय पुलिस प्रशासन की मदद से घर में आकर गाली गलौज की है। और जगह खाली करने के लिए धमकी दी है पीड़ित परिवार ने स्थानीय पुलिस पर सवालिया निशान खड़े करते हुए उच्च अधिकारियों से शिकायत की थी कई बार गुहार लगाई लेकिन पूरे मामले में अब तक कोई कार्यवाही नहीं हुई है। आज फिर से पीड़ित परिवार ने चित्रकूट धाम परक्षेत्र बाँदा के आईजी के सत्यनारायण से मामले की गुहार लगाई है और अपने घर जमीन को बचाने की मांग की है। फिलहाल पीड़ित परिवार की शिकायत के बाद जनपद के जिम्मेदार अधिकारी सकते में है। और मीडिया के सामने कुछ भी कहने से बच रहे हैं। सवाल उठता है की आखिर कार बीजेपी सरकार जहां एक ओर सुशाशन की बात करती है वही नरैनी बिधायक पर जमीन हथियाने का गंभीर आरोप स्थानीय परिवार क्यों लगा रहा है। अब तक जनपद के जिम्मेदार अधिकारी और पुलिस प्रशासन के अधिकारी कुछ भी पूरे मामले में बोलने से साफ तौर पर कतरा रहे हैं। देखने वाली होगी की पीड़ित परिवार को न्याय कबतक मिलता है।वहीं उच्चाधिकारियों द्वारा ये बात स्वीकार ही नही की जा रही कि थाना पुलिस द्वारा गरीब किसान पर विधायक के इशारे पर दबाब बनाया जा रहा है उल्टे पीड़ित परिवार पर विधायक को जबरन फसाने के आरोप लगा शिकायतों को अनसुना किया जा रहा है वही दिन पर दिन पीड़ित परिवार पर विधायक दबाब पुलिस के माध्यम से बना रहा है।लगातार पीड़ित पर के ऊपर घटित होती घटनाओं से किसान परिवार डरा सहमा हुआ है।

B 1 पीड़ित

B 2 पीड़ित

No Slide Found In Slider.